जीमेल : रोचक जानकारी

मेरे विचार से हिन्दी चिट्ठाकारों मे सबके पास जीमेल का एकाउन्ट है। गूगल द्वारा प्रदान की गयी यह एक अच्छी इमेल सेवा है। लेकिन कुछ ऐसी चीजें है जो शायद आप नही जानते होंगे। आइए इन्ही बातों के बारे मे बात करें।
gmailLogo

एक खाता अनेक प्रयोग
अक्सर हम अलग अलग जगह पर प्रयोग करने के लिए अलग अलग इमेल का प्रयोग करते है। हम एक ही खाते मे आफिस,चिट्ठे, दोस्तों और परिवार की की इमेल का हिसाब किताब रखना चाहते है। जीमेल पर फिल्टर लगाने की सुविधा है(इस बारे मे अगले प्वाइंट पर बात करते है।) लेकिन क्यों ना ऐसा हो कि हम हर जगह अलग अलग इमेल का पता दें, लेकिन इमेल एक ही जगह आए। तो जनाब परेशान ना होइए, आप ऐसा कर सकते है। जीमेल की इमेल मे एक खास बात है कि आपके इमेल के प्रथम भाग मे जितने भी डाट्स हों जीमेल उन्हे इग्नोर करता है। उदाहरण के लिए। आपका पता अगर RahulDravid@gmail.com है, निम्नलिखित पतों पर की गयी सभी इमेल आपके पास आएंगी।

RahulDravid@gmail.com
Rahul.Dravid@gmail.com
Ra.hul.Dravid@gmail.com
R.ahulDravid@gmail.com
R.a.h.u.l.D.r.a.v.i.d@gmail.com

अथवा

RahulDravid@googlemail.com
Rahul.Dravid@googlemail.com
Ra.hul.Dravid@googlemail.com
R.ahulDravid@googlemail.com
R.a.h.u.l.D.r.a.v.i.d@googlemail.com

अब आप बिन्दास अलग अलग टाइप के इमेल के लिए अलग अलग इमेल आईडी दे दीजिए। आनी सब एक जगह है। इसके अतिरिक्त आप + का भी प्रयोग कर सकते है। उदाहरण के लिए, किसी फालतू साईट पर आप RahulDravid+faltu@gmail.com दे सकते है, आपकी सारी इमेल आपके पते पर आएंगी और आप उन्हे फिल्टर करके, कूड़े दान मे डाल सकते। इस बारे मे अगले पैराग्राम मे देखिए।

फिल्टर (छंटाई)

अब आपके पास इमेल तो अलग अलग जगह से आ गयी, लेकिन आप चाहते है कि जीतू के यहाँ से आई इमेल एक जगह संचित हो जाए, इमेल बॉक्स को ना घेरे। तो उसका भी इलाज है। आप किसी भी आने वाले पते, विषय, पाने वाले पते अथवा सामग्री के आधार पर फिल्टर बनाकर, उस इमेल को वांछित जगह पर पहुँचा सकते है। पूरी जानकारी यहाँ दी गयी है।

इमेल की खोज ( Search )
अब जीमेल आपको इतना बड़ा स्टोरेज देता है कि आप इमेल को रखते जाते है। अक्सर जरुरी इमेल गुम हो जाती है। हालांकि आपको उनको * लगाकर संचित कर सकते है। लेकिन उसके बाद भी कई कई बार इमेल नही मिलती। उसके लिए आप ढूंढ सकते है। इसमे सामान्य के अतिरिक्त एडवान्स सर्च भी है। उदाहरण के लिए:

शोएब के यहाँ से आई सारी इमेल देखने के लिए : from:shuaib
अमित के यहाँ से आई अटैचमेन्ट वाली इमेल्स : from:amit has:attachment
कविराज के यहाँ से आई, गलती से डिलीट हुई
इमेल को देखने के लिए : in:trash from:kaviraj
अगस्त के महीने मे आई सारी इमेल : after:2007/08/01 before:2007/09/01

इस बारे मे विस्तृत जानकारी यहाँ पर उपलब्ध है।

फीड एग्रीगेटर मे मेल को पढना
इसके अतिरिक्त अपनी इमेल को लेबल करना, फारवर्ड करना तो आपको आता ही होगा। लेकिन क्या आप जानते है कि आप अपनी इमेल को अपने एग्रीगेटर मे भी पढ सकते है। हालांकि इसका कोई खास प्रयोग नही है, लेकिन यदि आप चाहे तो अपनी इमेल को एग्रीगेटर मे भी पढ सकते है। अपनी इमेल के फीड का पता जानने के लिए ब्राउजर मे ये पता डाले:

https://mail.google.com/mail/feed/atom

सभी नयी इमेल आपको वहाँ पर दिख जाएगी। पूरी जानकारी यहाँ पर है।

जीमेल पर नयी नयी सुविधाएं आती जाएंगी और हम आपको नयी नयी जानकारी उपलब्ध कराते जाएंगे। जीमेल पर नयी सुविधाओं की पहले से जानकारी पानी के लिए आप उनके अपने जीमेल ब्लॉग पर भी देख सकते है।

अच्छा जी तो आज की पोस्ट यहीं पर समाप्त की जाती है, पढते रहिए आपका अपना पन्ना।


26 Responses to “जीमेल : रोचक जानकारी”

  1. कुछ सुविधाओं का उपयोग कर रहें है, कुछ के बारे में अब जान लिया है तो करेंगे ही. उपयोगी जानकारी.

  2. कुछ ऐसी युक्ति है क्या जो yahoo, msn आदि की ईमेल भी गूगल में स्वतः forward हो जाए?

  3. कविराज के यहाँ से आई, गलती से डिलीट हुई
    इमेल को देखने के लिए : in:trash from:kaviraj

    आप कविराज की मेल ट्रेश में भी खोज रहे हैं, यह आश्चर्यजनक लग रहा है, लोग इनबॉक्स में भी देखने से डरते है ;)

    बहुत ही उपयोगी जानकारी उपलब्ध करवाही है ताऊ, यदि हम अंजान साईट्स पर अपना ई-पता देते हैं तो इसे इस प्रारूप RahulDravid+SITENAME@gmail.com का उपयोग कर पता लगा सकते हैं कि आने वाले अनचाहे स्पॉम उसी साईट से तो नहीं आ रहे हैं ;)

    बहुत-बहुत धन्यवाद!!!

  4. धन्यवाद, बड़े काम की जानकारी.


  5. कुछ ऐसी युक्ति है क्या जो yahoo, msn आदि की ईमेल भी गूगल में स्वतः forward हो जाए?

    हरिराम जी, जीमेल आपको एक सुविधा देता है जिसे Mail Fetcher कहा जाता है। इसके द्वारा आप किसी भी इमेल को अपनी जीमेल मे देख सकते है। बशर्ते उस इमेल ने POP ACCESS Enable करने की सुविधा दे रखी हो। पूरी जानकारी के लिए यहाँ पर देखें। किसी भी प्रकार की सहायता के लिए मुझे लिखे।

  6. अच्छी जानकारी,धन्यवाद

  7. शुक्रिया इस उपयोगी जानकारी के लिए!

  8. इत्ते दिन से हम जीमेल खोल खुला रहा हूं। लेकिन आज तक इतना सुविधा का उपयोग नही किया। आपने बता दिया तो अब करूंगा।

  9. कुछ बातें पता थीं कुछ और आपने बताई, धन्यवाद।

  10. जीतू भा

  11. जीतू भाई , मैने जी मेल पर दो नाम से id छोडी है , दोनो नाम अलग-२ हैं , क्या मै दोनो को एक जगह देख सकता हूँ और कैसे , जैसा आपने ऊपर RAHUL DRAVID वाली id से दिखाया है लेकिन वहाँ नाम एक ही है थॊडे बहुत परिवर्तन के साथ ।

  12. कृपया एक अधूरा कमेन्ट और यह कमेन्ट डीलीट कर दीजीये ।

  13. अरे वाह! बहुत उपयोगी जानकारी दी आपने .

  14. जीतू भाई, अच्छा किया इन सुविधाओं के बारे में लिख कर। कुछ दिन पहले आलोक जी ने भी इसके अतिरिक्त, चिप्पियों (tags) के प्रयोग के बारे में भी लिखा था। जीमेल की चिप्पियों और भंडारण का नुकसान

    शायद यह दोनों जानकारियाँ एक दूसरे की पूरक ही हों।

  15. चलिये जी,मेल बहुत करा दिया आपने! जीमेल ब्लॉग हमने गूगल रीडर में भर लिया है. पढ़ते रहेंगे और कभी आप से पहले तकनीकी सी लगने वाली पोस्ट ठोक देंगे!

  16. यह सारी जानकारी मेरे लिये नई थी. बहुत काम की बाते है. इस लेख के लिये आभार

    — शास्त्री जे सी फिलिप

    प्रोत्साहन की जरूरत हरेक् को होती है. ऐसा कोई आभूषण
    नहीं है जिसे चमकाने पर शोभा न बढे. चिट्ठाकार भी
    ऐसे ही है. आपका एक वाक्य, एक टिप्पणी, एक छोटा
    सा प्रोत्साहन, उसके चिट्ठाजीवन की एक बहुत बडी कडी
    बन सकती है.

    आप ने आज कम से कम दस हिन्दी चिट्ठाकरों को
    प्रोत्साहित किया क्या ? यदि नहीं तो क्यो नहीं ??

  17. सही है, बताओ सारे जुगाड़ जीमेल के भी, अपने को तो ये सब पैले से पता था! ;) अभी और भी हैं जीमेल के बहुत से जुगाड़, कुछ फालतू हैं कुछ काम के और कुछ ऐवंई हैं! :)

    कुछ ऐसी युक्ति है क्या जो yahoo, msn आदि की ईमेल भी गूगल में स्वतः forward हो जाए?

    हरिराम जी, फ्री के याहू और msn/windows live mail खातों की ईमेल आप स्वत: फार्वर्ड नहीं कर सकते। याहू भी आपको फिल्टर वगैरह लगा कर ईमेल की छंटाई करने देता है लेकिन उसके फिल्टर जीमेल जितने बढ़िया नहीं हैं और फ्री के खाते में सिर्फ़ 15 फिल्टर प्रयोग हो सकते हैं!

  18. “कुछ ऐसी युक्ति है क्या जो yahoo, msn आदि की ईमेल भी गूगल में स्वतः forward हो जाए?”

    जी हाँ आप forward कर सकते हैं सभी ईमेल अकाउँट में Auto Forward Facility होती है वहाँ पर आप जीमेल का पता दे दीजिये व जीमेल में Settings में जाकर Send Mail As में Add Another email address कर दीजिये तो आप yahoo, msn आदि की ईमेल पढ भी सकते हैं और वहीं से Reply भी दे सकते हैं। एक पापआप आ जायेगा ईमेल अकाउँट चुनने के लिये। जो भी ईमेल अकाउँट आपका प्राइमरी हो उसे Default सेट कर दीजिये । तो आपको सभी अकाउँट चेक करने की झंझट से मुक्ति मिल जायेगी ।

  19. जीतू भाई जानकारियां तो यकीनन बेहद उम्दा हैं मगर तकनीकी ज्ञान इतना सीमित है कि इसका उपयोग करना सीखने में वक्त ज्यादा लग जाता है। मगर यह तो व्यक्तिगत मामला है। काफी कुछ बातें तो आप जैसे लोगों के इन्हीं मंचों पर आकर ही सीखी है। शुक्रिया

  20. उपयोगी जानकारी दी है। पढ कर अच्छा लगा।

  21. Please told me how can type in hindi in this comment box. or e mail

  22. and after some days my internet is not opened any email that show only redirecting and faild .

  23. Please give me some idea to solve this proublem.

  24. “कुछ ऐसी युक्ति है क्या जो Other Gmail Account Sent ईमेल भी my गूगल Ad में स्वतः forward हो जाए?”

  25. “कुछ ऐसी युक्ति है क्या जो My Other Gmail Account Sent ईमेल भी my गूगल A/c में स्वतः forward हो जाए?”

  26. zindgi me bahutk kush karne ki soch rakhi hai magar koi rah nahi milti. rah mile to kush kar dikhane ki tamana hai. rah dhund rahen hai,kabhi to milegi. phir dikhaege kehum kya kush kr sakte hain

जरुरी सूचना

मेरा पन्ना पर टिप्पणी करने वालों के लिए एक तोहफा। आप टिप्पणी करिए और अपने ब्लॉग का पता सही सही भरिए, हम आपके ब्लॉग की आखिरी पोस्ट का लिंक यहाँ दिखा देंगे। इससे आपके ब्लॉग को कुछ और पाठक मिलेंगे। है ना सही चीज? तो फिर देर किस बात की है, शुरु हो जाइए।

Leave a Reply

CommentLuv badge